News

October 5, 2018

India Voice: Taxab President Mr. Manu Gaur Addressed a Gathering at DIT University on the Effects of #OverPopulation

Manu Gaur President, Taxpayers Association of Bharat (TAXAB) delivered a Talk on the ill-effects of overpopulation at a joint session ...
October 4, 2018

Manu Gaur President, Taxpayers Association of Bharat (TAXAB) delivered a Talk on the ill-effects of overpopulation at DIT & IMS University

Manu Gaur President, Taxpayers Association of Bharat (TAXAB) delivered a Talk on the ill-effects of overpopulation at a joint session of IMS Unison University & DIT […]
September 18, 2018

Manu Gaur President, Taxpayers Association of Bharat (TAXAB) delivered a Talk on the ill-effects of overpopulation at CCS Haryana Agricultural University

Manu Gaur President, Taxpayers Association of Bharat (TAXAB) delivered a Talk  on the ill-effects of overpopulation at Hisar University (Haryana), and interacted with around 1500+ students and […]
August 14, 2018

एक और स्वतंत्रता संग्राम की ओर भारत

1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के समय दुनिया की जनसंख्या लगभग उतनी ही थी जितनी आज अकेले भारत की है। आज भारत की फिर से एक और स्वतंत्रता संग्राम की आवश्यकता है। बढ़ती आबादी के बोझ से स्वतंत्रता। आजादी की 72 वीं वर्षगांठ के अवसर पर आज मेरे द्वारा भारत की जनसंख्या से जुड़े कुछ तथ्य साधारण भाषा में इस देश के समक्ष रखने का प्रयत्न किया जा रहा है।
July 31, 2018
Population surge to blame for much of India’s troubles

Population surge to blame for much of India’s troubles

वैज्ञानिकों का कहना है कि मानव सभ्यता की उत्पत्ति को लगभग 1 लाख 30 हजार साल से 1 लाख 60 हजार साल हो चुके हैं और हमें डेढ़ लाख साल लगे दुनिया की जनसंख्या को 100 करोड़ पहुंचाने में। सन् 1804 में दुनिया की आबादी ने पहली बार 100 करोड़ के आंकड़े को छुआ। अगले 123 साल में मतलब सन् 1927 में दुनिया की आबादी बढ़कर 200 करोड़ को गई। फिर भी इन्सान को समझ नहीं आया कि वो किस दिशा में बढ़ रहा है।
July 10, 2018
विश्व की सबसे ज्यादा आबादी वाला देश मेरा भारत महान।

विश्व की सबसे ज्यादा आबादी वाला देश मेरा भारत महान।

वैज्ञानिकों का कहना है कि मानव सभ्यता की उत्पत्ति को लगभग 1 लाख 30 हजार साल से 1 लाख 60 हजार साल हो चुके हैं और हमें डेढ़ लाख साल लगे दुनिया की जनसंख्या को 100 करोड़ पहुंचाने में। सन् 1804 में दुनिया की आबादी ने पहली बार 100 करोड़ के आंकड़े को छुआ। अगले 123 साल में मतलब सन् 1927 में दुनिया की आबादी बढ़कर 200 करोड़ को गई। फिर भी इन्सान को समझ नहीं आया कि वो किस दिशा में बढ़ रहा है।
June 4, 2018

Burgeoning Population Crisis of India

From independence to now, India’s growth story is no doubt huge and holds merit. But it has also been severely punctuated due to resource constraints. This we believe is further accentuated by a burgeoning population crisis. Manifold increase in number of mouths to feed and lives to sustain has meant acute stress on natural resources, fractured development and a country far from realizing its potential.
August 27, 2017

द सहारा न्यूज ब्यूरो : जनसंख्या में हो रही वृद्धि चिंता का विषय : मुख्यमंत्री उत्तराखंड सरकार

जनसंख्या नियंतण्रको लेकर कानून बने जनसंख्या नियंतण्रके मामले में उत्तराखंड सरकार ने सकारात्मक रुख दिखाया है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने टैक्स पेयर्स एसोसिएशन ऑफ भारत […]
July 26, 2017

#Bharat4PopulationLaw : जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांग को लेकर वीरभद्र से मिला टैक्सएब प्रतिनिधिमंडल

नई दिल्ली। टैक्सपेयर्स एसोसिएशन ऑफ भारत के प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से मुलाकात की। एसोसिएशन के सदस्यों ने मुलाकात में […]
July 21, 2017

Prokerala.com : New Delhi: Geeta Phogat takes only two-child oath

New Delhi: India’s first Commonwealth Games wrestling gold medalist Geeta Phogat along with her husband, fellow wrestler Pawan Kumar. takes an oath to have not more […]
July 21, 2017

India.com Taxpayers Association of Bharat (TAXAB), a platform for citizen-driven movement for population stabilisation, which today said it will appeal to the Centre to bring about a “two-child norm in the country”.

The first Indian female wrestler to have qualified for Olympics, Geeta was present at the event, along with her husband and fellow wrestler Pawan Kumar. The […]
July 21, 2017

India.com : World Population Day 2017: Indian Wrestler Geeta Phogat pledges to not have more than two kids!

The theme of this year’s World Population Day is Family Planning: Empowering People, Developing Nations and Geeta could not have timed her enlightening pledge better. India’s […]